लीजिए, पेश है चाणक्य फ़ॉन्ट के लिए निःशुल्क हिंदी वर्तनी जांचक

--- विज्ञापन ---

----------- *** -----------

image

 

यूनिकोड हिंदी में लिखी सामग्री की वर्तनी जाँच के लिए तो अब हमारे पास कई अच्छे और निःशुल्क विकल्प हैं, परंतु प्रिंट मीडिया में धुंआधार उपयोग में लिया जाने वाला चाणक्य फ़ॉन्ट के लिए निःशुल्क वर्तनी जाँचक अब तक - कम से कम मेरी जानकारी में - नहीं था.

परंतु अब आपके लिए चाणक्य फ़ॉन्ट में लिखी हिंदी सामग्री का निःशुल्क वर्तनी जांचक उपलब्ध है.

वस्तुतः यह एक द्वि-फ़ॉन्ट वर्तनी जांचक है जिसमें आपको यूनिकोड तथा चाणक्य दोनों में ही हिंदी वर्तनी जाँच की सुविधा मिलती है.

आपको अपनी सामग्री को इसके विंडो में पेस्ट करना होगा (या इसमें टाइप करना होगा) और चेक स्पेल नामक बटन को क्लिक करना होगा. यह लिखते लिखते तो वर्तनी नहीं जाँचता, मगर टाइप किए या पेस्ट किए मैटर का वर्तनी बढ़िया, तेज गति से जाँचता है. और गलत वर्तनी के शब्दों के लिए ठीक-ठीक विकल्प सुझाता है. इसका शब्दभंडार डाटाबेस भी विशाल - 51 हजार शब्दों का है.

इस औजार को यहाँ से अथवा यहाँ से डाउनलोड कर सकते हैं. यह जिप फ़ाइल होता है जिसे आपको अनजिप करना होगा, फिर उसके फ़ोल्डर में जाकर इंडेक्स एचटीएमएल को किसी ब्राउजर में खोलना होगा. यह औजार ब्राउजर आधारित है और फायरफाक्स में बढ़िया काम करता है. क्रोम व इंटरनेट एक्सप्लोरर में यह त्रुटि पैदा करता है.

इसे आप यहाँ से ऑनलाइन भी उपयोग में ले सकते हैं. ध्यान दें कि यह फायरफाक्स ब्राउजर में ही ठीक से काम करता है.

--- विज्ञापन ---

----------- *** -----------

_____________________________________

6 टिप्पणियाँ "लीजिए, पेश है चाणक्य फ़ॉन्ट के लिए निःशुल्क हिंदी वर्तनी जांचक"

  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल रविवार (06-01-2013) के चर्चा मंच-1116 (जनवरी की ठण्ड) पर भी होगी!
    --
    कभी-कभी मैं सोचता हूँ कि चर्चा में स्थान पाने वाले ब्लॉगर्स को मैं सूचना क्यों भेजता हूँ कि उनकी प्रविष्टि की चर्चा चर्चा मंच पर है। लेकिन तभी अन्तर्मन से आवाज आती है कि मैं जो कुछ कर रहा हूँ वह सही कर रहा हूँ। क्योंकि इसका एक कारण तो यह है कि इससे लिंक सत्यापित हो जाते हैं और दूसरा कारण यह है कि किसी पत्रिका या साइट पर यदि किसी का लिंक लिया जाता है उसको सूचित करना व्यवस्थापक का कर्तव्य होता है।
    सादर...!
    नववर्ष की मंगलकामनाओं के साथ-
    सूचनार्थ!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    उत्तर देंहटाएं
  2. सर, स्पेल स्चेक के बहुत विकल्प दे दिये . गूगल फोनिक्ट्क से लिखता हू. एक अच्छा hinid spell check चाहता हू.
    लिब्र install किया . मगर उस मे हिंदी वाला स्पेल चेक देखा ही नहीं .....स्क्रीन शोट से activate करना समजा दीजिए ....और अरविन्द लिक्सन जोड़ना भी सिखाएं

    उत्तर देंहटाएं
  3. प्रयोग कर के देखते हैं..

    उत्तर देंहटाएं
  4. तरक्की के बढ़ते कदम , बधाई हो हम सभी को।

    उत्तर देंहटाएं
  5. इसे यूनी कोड के लिए आजमाऊँगा।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.