शुक्रवार, 17 नवंबर 2017

कृतिदेव / चाणक्य आदि फ़ॉन्ट के डाक्यूमेंट अपने स्मार्टफ़ोनों में आसानी से, बिना रूट किए, कैसे देखें/पढ़ें

पहले भी कुछ जुगाड़ थे यहाँ और यहाँ. परंतु ये सीमित थे और किसी में फ़ोन को  रूट करने की जरूरत होती थी.

अब बहुत ही आसान सा जुगाड़ आ गया है.

जब कोई आपके पास चाणक्य या कृतिदेव या इसी तरह के अन्य फ़ॉन्ट में जो यूनिकोड नहीं होता है कोई फ़ाइल आपके पास भेजता है तो आप अपने स्मार्टफ़ोन में उसे नहीं देख पाते. कुछ ऐसा दिखता है वो -

Capture _2017-11-12-14-53-00

वर्ड / डॉक ऐप्प में खोलने पर यह ऐसा दिखता है -

Capture _2017-11-12-14-54-37

अब या तो इसे कंप्यूटर पर खोलना जरूरी हो जाता है या फिर फ़ोन पर कोई जुगाड़ (ऊपर लिंक देखें) लगाकर यूनिकोड में कन्वर्ट कर देखना होता है.

परंतु अब आपके पास आसान सा उपाय है.

अपने एंड्रायड फ़ोन में इंटरनल मेमोरी में (ध्यान दें, एसडी कार्ड नहीं) रूट डायरेक्ट्री में एक फ़ोल्डर Font नाम से बनाएँ (यह बेहद आसान है -स्मार्टफ़ोन के डिफ़ॉल्ट फाइल मैनेजर को खोलें, ऊपरी दायेँ कोने के तीन बिंदु को टच करें और नया फ़ोल्डर पर टैप करें और नाम Fonts से सहेजें) और डाउनलोड कर, ब्लूटूथ से या यूएसबी से कनेक्ट कर उस फ़ोल्डर में कृतिदेव, चाणक्य, सुषा आदि आदि तमाम हिंदी फ़ॉन्ट कॉपी कर लें.

Capture _2017-11-17-16-11-28

अब ऐप्प स्टोर में जाकर डबल्यूपीएस आफिस (WPS Office से सर्च करें- असली लिंक - https://play.google.com/store/apps/details?id=cn.wps.moffice_eng ) डाउनलोड कर इंस्टाल कर लें. बेसिक फ्री वर्जन ही इंस्टाल करें, जो इस तरह के दस्तावेजों को पढ़ने लायक दिखाने के लिए पर्याप्त है.

image


अब आप अपने कृतिदेव, चाणक्य आदि फ़ॉन्ट वाले दस्तावेजों को डब्ल्यूपीएस ऑफिस से खोलें. यदि आपके दस्तावेज का फ़ॉन्ट आपके फोन की इंटरनल मेमोरी के रूट डायरेक्ट्री में Font फ़ोल्डर में कॉपी किया हुआ होगा, तो यह दस्तावेज आपके पढ़ने लायक यहाँ दिखेगा. कुछ ऐसे -

Capture _2017-11-12-14-55-58

कृपया भ्रमित न हों, ऊपर स्मार्टफ़ोन के स्क्रीन पर जो हिंदी टैक्स्ट दिख रहा है वह चाणक्य फ़ॉन्ट में है.

कृतिदेव, चाणक्य दस्तावेज़ अमर रहें!

read krutidev chanakya shusha old hindi font file word document in smartphone

0 blogger-facebook

एक टिप्पणी भेजें

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

---------------------------------------------------------

मनपसंद रचनाएँ खोजकर पढ़ें
गूगल प्ले स्टोर से रचनाकार ऐप्प https://play.google.com/store/apps/details?id=com.rachanakar.org इंस्टाल करें. image

--------