सोमवार, 9 अक्तूबर 2017

अपने कंप्यूटिंग उपकरणों में देवनागरी में विविध प्रकार से, धड़ल्ले से कैसे लिखें?

आप चाहे हिंदी के - खांटी, उत्साही, युवा, बुजुर्ग, वरिष्ठ, पुरस्कृत (भले ही लौटा दिया हो), चर्चित इत्यादि-इत्यादि जिस भी किस्म के भी पाठक-लेखक हों, एक बात मैं दावे के साथ कह सकता हूँ. आपमें से अधिकांश के पास मौजूद आपके कंप्यूटिंग उपकरणों – यथा स्मार्टफ़ोन अथवा टैबलेट-लैपटॉप-डेस्कटॉप का इंटरफ़ेस हिंदी में तो शर्तिया नहीं होगा. अंग्रेज़ी चमचमाती हुई चहकती हुई दिखती होगी. जबकि हिंदी वहीं, पृष्ठभूमि में दबी कुचली पड़ी होगी, जिसे सेटिंग में जाकर केवल एक टैप या क्लिक के बल पर सक्षम कर ससम्मान, सगर्व सामने लाया जा सकता है. पर, नहीं, इतना कष्ट कौन करे, किसके लिए करे! जब डिफ़ॉल्ट अंग्रेज़ी इंटरफ़ेस पर बढ़िया काम हो रहा है तो हिंदी इंटरफ़ेस कौन सामने लाए, और हिंदी के बहुत से नव-युवा पाठकों-लेखकों को तो, हो सकता है हिंदी का इंटरफ़ेस ही समझ न आए! कोढ़ में खाज ये कि हममें से बहुतों के कंप्यूटिंग उपकरणों में तो हिंदी टाइप करने की सुविधा भी स्थापित या सक्षम नहीं होती है, और हम रोमन-हिंदी में टाइप कर सोशल मीडिया पर अति सक्रिय होकर हिंदी की अति-सेवा कर रहे होते हैं. बहुत हुआ तो, रो-धो कर फ़ोनेटिक हिंदी कुंजीपट का उपयोग करते हैं जिसमें राम जैसे आसान शब्द को टाइप करने के लिए भी अंग्रेज़ी के आर ए ए एम ए जैसे जटिल और अपेक्षाकृत बहुत अधिक कुंजियों को टाइप करना होता है, और यदि मामला क्वचिदन्यतोपि जैसे जटिल शब्दों को लिखने का हो तो कितना भी ट्रायल-एरर मैथड अपना लें, टाइप ही नहीं होगा, नतीजतन सरल वैकल्पिक/शब्दार्थ से काम चलाते हैं और, बहुत से भले लोग पूर्ण विराम के लिए, हिंदी की खड़ी पाई के बजाए रोमन खड़ी लाइन का उपयोग करते पाए जाते हैं, क्योंकि उन्हें रोमन पूर्णविराम चिह्न के उपयोग से गुरेज होता है.

चूंकि हिंदी एक बहुत ही बड़े और विशाल-संभावनाशील बाजार की भाषा है, इसलिए हिंदी में अब हर कंप्यूटिंग प्लेटफ़ॉर्म – चाहे वो क्लासिक विंडोज़ हो, एप्पल आईओएस हो, लिनक्स हो या नवीनतम एंड्रायड – हिंदी भाषा अब हर किस्म की सुविधाओं के साथ मौजूद है, और इनमें नित नए आयाम जुड़ते ही जा रहे हैं. अस्सी के शुरूआती दशक में जब पर्सनल कंप्यूटरों का आगमन हुआ तो शब्द-संसाधक जैसे प्रोग्रामों ने आम जन में इनकी लोकप्रियता व स्वीकार्यता में नए आयाम जोड़े. जमाना डास आधारित प्रोग्रामों का होता था जिसमें श्वेत-श्याम स्क्रीन पर की-बोर्ड कमांड के जरिए काम करना होता था. उस वक्त हिंदी के पहले पहल बनाए गए शब्द-संसाधक प्रोग्राम अक्षर और शब्द-रत्न अच्छे खासे लोकप्रिय थे.

clip_image002

(डॉस DOS आधारित हिंदी शब्द संसाधक प्रोग्राम ‘अक्षर’ – सीआरटी श्वेत-श्याम कंप्यूटर मॉनीटर पर चलता हुआ. )

clip_image004

(डॉस DOS आधारित हिंदी शब्द संसाधक प्रोग्राम ‘शब्दरत्न’ – इनके कीबोर्ड रेमिंगटन हिंदी लेआउट में सेट थे.)

तब से लेकर अब तक हिंदी कंप्यूटिंग की दुनिया में अरबों अक्षरों के कोड लिखे जा चुके हैं और अब तो कंप्यूटरों पर उपलब्ध कृत्रिम बुद्धि आपकी हिंदी भाषा में बोले गए वाक्यों और आदेशों को भी समझने में सक्षम हो चुकी है.

अब सवाल ये है कि आखिर देवनागरी में लिखें तो कैसे, और किस टूल से? यदि आप पहले से ही देवनागरी में लिख रहे हैं तो अपनी उत्पादकता बढ़ाने – माने और अधिक तेज़ी से, और अधिक शुद्धता से, और बेहतर तरीके से देवनागरी में कैसे लिखें? आइए, आज पड़ताल करते हैं - आपके लिए उपलब्ध कुछ शानदार हिंदी टाइपिंग टूल के बारे में – कौन सा टूल किस प्लेटफ़ॉर्म के लिए बेहतर होगा?

मैं कोई पिछले पच्चीस वर्षों से प्रायः सभी किस्म के कंप्यूटरों और कंप्यूटिंग उपकरणों पर हिंदी टाइपिंग का उपयोग धड़ल्ले से करता आ रहा हूँ, और मैंने आमतौर पर, बेहतर की तलाश में सभी प्रमुख टाइपिंग टूल को एकाध बार तो आजमाया ही है. इन्हीं में से चुनकर, आपके लिए कुछ टाइपिंग टूल की जानकारी प्रस्तुत करूंगा जिसे प्रयोग कर आप सोशल मीडिया में अपनी गतिविधि में चार चाँद लगा सकते हैं.

स्मार्टफ़ोन की अंग्रेज़ी की करें हिंदी

आइए, सबसे पहले हम अपने हाथों में मौजूद स्मार्टफ़ोन/टैबलेट के अंग्रेज़ी इंटरफ़ेस को हटाकर हिंदी में बदलते हैं. हममें से अधिकांश के पास एंड्रायड उपकरण होता है. अधिकांश में हिंदी का इंटरफ़ेस पहले से ही स्थापित होता है. बस, केवल एक टैप से इसे सक्षम करना होता है. इसके लिए, सेटिंग्स आइकन (गियर आइकन होता है) पर टैप करें, जनरल मैनेजमेंट (सेमसुंग उपकरणों) अथवा लैंग्वेजेस एंड इनपुट (स्टॉक एंड्रायड) में जाएं और वहाँ लैंग्वेज > लैग्वेज प्रेफ़रेंस > में जाकर एड ए लैंग्वेज के धन चिह्न में टैप करें. वहाँ उपलब्ध भाषाओं में से हिंदी चुनें, और उसे खिसका कर अंग्रेजी के ऊपर कर दें. बस. आप देखेंगे कि आपके फ़ोन की भाषा तुरंत ही, अंग्रेज़ी से बदल कर हिंदी हो गई है. है न एकदम आसान! (ये चरण स्टॉक एंड्रायड के नवीनतम वर्जन 7.0 के लिए है, अन्य संस्करणों में चरणों में मामूली फेरबदल हो सकता है, परंतु अधिकांशतः कुछ इसी तरह के आसान से चरण होते हैं). न केवल हिंदी, बल्कि तमाम प्रमुख भारतीय भाषाएँ भी आपको वहाँ दिखेंगी. और, यदि आपके पास माइक्रोमैक्स जैसी भारतीय कंपनी के स्मार्टफ़ोन/टैबलेट हैं तो आपको 22 भारतीय भाषाएँ मिलती हैं.

अपने विंडोज़ डेस्कटॉप/लैपटॉप को बनाएँ हिंदीमय

अपने विंडोज़ डेस्कटॉप/लैपटॉप के इंटरफ़ेस को अंग्रेज़ी से बदलकर हिंदी में करना चाहेंगे? यह भी बेहद आसान है, और आप पाएंगे कि आपका हिंदी-मय कंप्यूटर दिखने में सुघड़-सुंदर भी होगा. तो इसके लिए (ये चरण विंडोज़ के नवीनतम संस्करण 10 के लिए हैं, अन्य संस्करणों में मामूली सा फेरबदल हो सकता है) विंडो स्टार्टबटन को क्लिक करें और सेटिंग में जाने के लिए गियर आइकन को क्लिक करें. विंडोज़ सेटिंग्स विंडो खुलेगा जिसमें टाइम एंड लैंगुएज आइकन पर क्लिक करें. रीजन एंड लैंगुएज पर क्लिक करें. प्लस बटन के बाजू में दिए गए एड ए लैंगुएज पर क्लिक करें. नीचे स्क्रॉल करें और हिंदी चुनें. आप देखेंगे कि अन्य प्रमुख भारतीय भाषाएँ भी यहाँ मौजूद हैं. हिंदी भाषा पैक डाउनलोड करने के लिए आपके कंप्यूटर को इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता हो सकती है. अब हिंदी के ऊपर दायां क्लिक करें और सेट एज़ डिफ़ाल्ट चुनें. अगले साइन इन के बाद आपका कंप्यूटर हिंदी में दिखने लगेगा. चाहें तो ऑप्शन बटन पर क्लिक कर उपलब्ध स्पीच व लैंग्वेज पैक भी डाउनलोड कर सकते हैं, जिससे आपको भाषाई हिंदी कंप्यूटिंग की अतिरिक्त सुविधा मिल सकती है.

clip_image005

(विंडोज़ 10 में हिंदी इंटरफ़ेस आसान चरणों से स्थापित किया जा सकता है)

चलिए अब देखते हैं कि हम अपने स्मार्टफ़ोनों में हिंदी में कैसे बेहतर तरीके से टाइप कर सकते हैं, क्योंकि सोशल मीडिया पर अधिकांश सामग्री स्मार्टफ़ोनों के जरिए ही आ रही है, और, अच्छी, सारगर्भित सामग्री भी आ रही है. आप आश्चर्य करेंगे यह जानकर कि बहुत संभव है कि आपके हाथों में उपलब्ध नए-नवेले स्मार्टफ़ोन में आपके पुराने हो चुके डेस्कटॉप कंप्यूटर से भी ज्यादा कंप्यूटिंग ताकत है. यदि थोड़ा भी उन्नत किस्म का हुआ तो हो सकता है कि आपके स्मार्टफ़ोन में एक नहीं, दो नहीं, बल्कि आठ-आठ प्रोसेसर (कंप्यूटर के सिंगल सीपीयू मदर बोर्ड जैसा आठ) लगे हों. चार प्रोसेसर तो आम बात हैं, जो बेहद किफ़ायती दामों वाले फ़ोनों में भी होते हैं. और, आपके ये स्मार्टफ़ोन आपके लिए हिंदी टाइप करने में हर तरह के उन्नत कार्य कर सकने में सक्षम होते हैं.

स्मार्टफ़ोनों में उपलब्ध हिंदी टाइपिंग की सुविधाएँ –

स्मार्टफ़ोनों में उपलब्ध हिंदी टाइपिंग का रोमन ट्रांसलिट्रेश औजार स्मार्टफ़ोनों में बहुत पहले से उपलब्ध है, और आमतौर पर हिंदी में सक्रियता से काम करने वालों के लिए बेकार है. क्योंकि चार हिंदी अक्षर वाले शब्द को टाइप करने के लिए छः से आठ कुंजियां दबानी पड़ती हैं और ट्रायल व एरर अपनाना पड़ता है. तो सवाल ये है कि सर्वश्रेष्ठ टूल कौन सा है? सर्वश्रेष्ठ टूल हर उपयोगकर्ता के लिए भिन्न हो सकता है, और यदि आप अपनी हिंदी टाइपिंग में पहले से ही किसी टूल में मास्टर हैं, तो आपको अपना हिंदी टाइपिंग टूल बदलने की जरूरत नहीं है. फिर भी, यदि आप अपने स्मार्टफ़ोन के लिए किसी सर्वश्रेष्ठ हिंदी टाइपिंग टूल की तलाश में हैं तो प्ले स्टोर से स्विफ़्टकी (swiftkey) इंस्टाल करें, और इंस्टाल करने के बाद उसमें हिंदी कीबोर्ड एनेबल करें. यह टूल निःशुल्क है, और यह एंड्रायड और आईओएस दोनों प्लेटफ़ॉर्म में उपलब्ध है.

स्मार्टफ़ोनों में हिंदी टाइपिंग के लिए बढ़िया औजार - स्विफ़्टकी

हिंदी टाइपिंग के लिए, स्विफ़्टकी क्यों सर्वश्रेष्ठ है? – माइक्रोसॉफ़्ट समर्थित स्विफ़्टकी, विश्व की सभी प्रमुख भाषाओं में टाइपिंग टूल उपलब्ध करवाता है और इसकी टीम केवल टाइपिंग टूल में बेहतर गुणवत्ता प्रदान करने के लिए ही काम करती है. हिंदी में स्मार्टफ़ोनों में टचस्क्रीन सुविधा के कारण आपको कीबोर्ड रटने की वैसे भी कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि सब सामने रहता है, फिर भी यह आसानी से याद हो जाने वाले हिंदी वर्णमाला तथा बारह-खड़ी वाला कुंजीपट लेआउट का प्रयोग करता है. साथ ही इसमें कई तरह की उन्नत सुविधाएं हैं. जैसे कि पूर्व में चर्चा की जा चुकी है, यदि आपको रोमन ट्रांसलिट्रेशन टूल से ‘क्वचिदन्यतोऽपि’ जैसे कुछ हिंदी-संस्कृत का जटिल शब्द लिखने को कहा जाए तो बड़ी कठिनाई होती है, और कई बार असंभव हो जाता है. परंतु इस टूल में ऐसे जटिल शब्दों को टाइप करने के लिए त्रि-स्तरीय कुंजीपट उपलब्ध हैं और वे आपके द्वारा टाइप किए जा रहे शब्दों-अक्षरों का पूर्वानुमान लगा कर आपके लिए शानदार विकल्प भी पेश करते हैं. आइए, इसे जरा चित्रों से समझें –

जैसे ही आप क टाइप करते हैं, आपके सामने प्रेडिक्टिव टैक्स्ट के विकल्प आते हैं जो आपके पूर्व के कार्य पर निर्भर होते हैं. यदि आपको इनमें से कुछ नहीं चुनना है तो नीचे बारह खड़ी में से चुन सकते हैं, वह भी नहीं चाहिए, तो क्षत्रज्ञ लिखे बटन को टच करें.

clip_image007

क्षत्रज्ञ बटन को टच करने पर कुंजी पट का एक नया लेवल खुलता है जिसमें आपको और विकल्प मिलते हैं – आप देखेंगे कि न सिर्फ ‘क’ के विभिन्न संयुक्ताक्षर वाले रूप बल्कि अन्य पौराणिक चिह्न आदि भी मिलते हैं.

clip_image009

जैसे ही आप कोई शब्द टाइप कर लेते हैं, यह प्रेडिक्टिव टैक्स्ट इनपुट से आपके पुराने उपयोग पैटर्न के हिसाब से एक नहीं बल्कि दो-दो शब्दों का भी एक साथ टाइप करने का सुझाव देता है. इससे आप महज कुछ ही कुंजी दबा कर पूरा वाक्य टाइप कर सकते हैं.

clip_image011

इसमें केवल यही सुविधा नहीं है बल्कि फ्लो टाइपिंग की सुविधा भी है. आप अपनी उँगली उठाए बिना ही शब्दों में निहित अक्षरों को छूकर बेहतर और तेजी से टाइप कर सकते हैं. उदाहरण के लिए कहानी टाइप करने के लिए आपको सीक्वेंस में क ह न को छूना भर है, और कहानी टाइप हो जाएगा. थोड़े से प्रैक्टिस से आप इसमें महारत हासिल कर सकते हैं और यह विधि बेहद सुविधाजनक तो है ही, आपकी उंगलियों को राहत भी देता है.

अपने स्मार्टफ़ोन में बोलकर हिंदी में टाइप करें –

clip_image013

(एंड्रायड में गूगल डॉक्स में एक फ़ाइल में बोलकर लिखा जा रहा है. आप देखेंगे कि एंड्रायड गूगल डॉक्स में भी हिंदी वर्तनी जांच की बढ़िया सुविधा उपलब्ध है)

प्रसिद्ध कथाकार सूरज प्रकाश सोशल मीडिया में अति सक्रिय हैं. वे फ़ेसबुक, ट्विटर और ब्लॉग पर शुद्ध देवनागरी हिंदी में लिखते हैं. परंतु एक बात विचित्र है. वे बोल कर लिखते हैं. क्या आप अंदाजा लगा सकते हैं कि वे ये कैसे करते हैं? वे कोई पिछले सालेक भर से अपने स्मार्टफ़ोन में बोल कर ही टाइप करते हैं!

जी हाँ, गूगल वाइस लेखन नामक निःशुल्क उपलब्ध टूल के जरिए वे यह कार्य बखूबी कर रहे हैं. ऊपर से, अब आपको वाइस टाइपिंग के लिए ऑनलाइन रहने की भी जरूरत नहीं. हिंदी के लिए ऑफ़लाइन डेटा डाउनलोड हो जाता है जिससे आप कहीं भी कभी भी बोलकर हिंदी देवनागरी में लिख सकते हैं. इसके लिए गूगल इनपुट तथा गूगल वाइस इनपुट टूल इंस्टाल कर हिंदी लैंग्वेज पैक प्ले स्टोर से इंस्टाल करें. यदि आपका स्मार्टफ़ोन अपेक्षाकृत नया है तो उसमें जीबोर्ड नामक कुंजीपट स्वचालित इंस्टाल किया हुआ मिलेगा. इसमें गूगल वाइस इनपुट टूल अंतर्निर्मित रहता है. यकीन मानिए, इसका उपयोग बेहद आसान है और आश्चर्यकारी शुद्धता युक्त है. इतना ही नहीं, आप हिंदी में बोलकर कमांड भी दे सकते हैं. गूगल वाइस इनपुट को सक्षम करने की सेटिंग एंड्रायड 7.0 के लिए कुछ इस तरह होगी –

सेटिंग्स > जनरल मैनेजमेंट अथवा लैंग्वेजेस एंड इनपुट > कीबोर्ड एंड इनपुट मैथड के नीचे दिए गए वर्चुअल कीबोर्ड पर टैप करें. आपको गूगल वाइस टाइपिंग का आइकन दिखेगा. उस पर टैप करें. लैंग्वेजेस में टैप करें और केवल हिंदी चुनें. ध्यान रखें कि यहाँ केवल हिंदी चुनें, अन्यथा एक से अधिक भाषा चुनने पर यह कभी कभी दूसरी चुनी गई भाषा में इनपुट लेने लगेगा. ध्यान दें कि पहले से चुनी गई भाषाएँ मसलन अंग्रेज़ी का चयन हटाना है. अब सेटिंग सहेज लें. सहेजने के बाद आपको वहीं पर ऑफलाइन स्पीच रिकग्नीशन – मैनेज डाउनलोडेड लैंगुएजेस का एक विकल्प दिखेगा. उस पर टैप करें. आल टैब पर टैप करें. नीचे स्क्रॉल कर हिंदी चुनें. डाउनलोड के लिए सहमति दें. थोड़ी ही देर में (आपके इंटरनेट कनेक्शन की गति पर निर्भर) आपके स्मार्टफ़ोन में ऑफलाइन मोड में हिंदी बोली पहचान का मसाला डाउनलोड हो जाएगा, और आप धड़ल्ले से बोल कर हिंदी लिख सकेंगे. और, यकीन मानिए, यदि आपकी बोली रेडियो के उद्घोषकों की तरह स्पष्ट और तेज है तो शत प्रतिशत शुद्धता से टाइप कर सकेंगे और उत्पादकता होगी 200 शब्द प्रतिमिनट से भी अधिक!

जब भी आपको बोल कर लिखना हो, चुने गए कीबोर्ड (स्विफ़्टकी में स्पेस बार के बाई ओर या जीबोर्ड में कीबोर्ड के ऊपर दायीं ओर) उपलब्ध माइक्रोफ़ोन बटन को दबाएँ (विविध उपकरणों पर यह सेटिंग भिन्न हो सकती है – जैसे कि यह विकल्प पाने के लिए ग्लोब आइकन को दबाकर रखें या स्पेस बार को दबाकर रखें या कीबोर्ड आइकन को दबाकर गूगल वाइस टाइपिंग चुनें,) और बस बोलते चले जाएँ. रुकने के लिए माइक्रोफ़ोन आइकन को फिर से दबाएं जो टॉगल बटन जैसा काम करता है.

अपने कंप्यूटर पर हिंदी में बोलकर टाइप करें

आप अपने एंड्रायड स्मार्टफ़ोन को आप डिक्टाफ़ोन की तरह उपयोग कर उसमें बोल कर अपने पीसी या लैपटॉप में सीधे लिख सकते हैं. इसके लिए एक छोटा सा जुगाड़ करना होगा. अपने एंड्रायड फ़ोन में गूगल डॉक्स इंस्टाल करें (प्ले स्टोर में जाकर Google docs सर्च करें). अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पर गूगल डॉक्स या गूगल ड्राइव (हिंदी में गूगल डिस्क) में जाएं और वहाँ एक नया फ़ाइल बनाएं या किसी पुरानी फ़ाइल को संपादन के लिए खोलें. उदाहरण के लिए, इस नए फ़ाइल का नाम देते हैं – ‘हिंदी बोलकर टाइप करना’.

अब अपने एंड्रायड मोबाइल में गूगल डॉक्स ऐप्प जो आपने इंस्टाल किया है उसे खोलें. फिर उस फ़ाइल को खोलें जिसे आपने अपने कंप्यूटर या लैपटॉप पर खोला हुआ है (उदाहरण – ‘हिंदी बोलकर टाइप करना’ नामक फ़ाइल, थोड़ा नेविगेशन करें तो यह फ़ाइल दिख जाएगा). अब आप अपने मोबाइल पर बोलकर इस फ़ाइल में लिखना चालू करें. जैसे जैसे आप बोलकर लिखते जाएंगे, आप देखेंगे कि आपके कंप्यूटर या लैपटॉप के गूगल डॉक्स के स्क्रीन पर भी रीयल टाइम में यह टाइप होता जा रहा है, जिसे आप आसानी से अपने की-बोर्ड की सहायता से संपादित कर सकेंगे.

clip_image014

(कंप्यूटर पर गूगल डॉक्स की उसी फ़ाइल को खोला गया है जिसमें हम मोबाइल में बोलकर लिख रहे हैं, और जो रीयल टाइम में अपडेट हो रहा है – यानी हम अपने स्मार्टफ़ोन में बोलकर लिख रहे हैं और यहाँ कंप्यूटर पर खुले दस्तावेज़ में यह अपने आप टाइप हो रहा है. वस्तुतः यह दस्तावेज़ मोबाइल में ही टाइप हो रहा है, परंतु प्रतीत हो रहा है कि वह यहाँ टाइप हो रहा है. कंप्यूटर पर आप इस दस्तावेज़ को बाद में आसानी से संपादित कर सकते हैं.)

ध्यान दें कि अच्छे परिणामों के लिए निम्न आवश्यकताएं परिपूर्ण करना आवश्यक है -

1 – आपका स्मार्टफ़ोन थोड़ा उन्नत किस्म का हो – यानी ड्यूअल कोर हो और एंड्रायड संस्करण 4.1 से आगे का हो

2 – आपके नेट कनेक्शन की गति पर्याप्त तेज हो – यानी ब्रॉडबैण्ड या 3 जी हो और अबाधित हो – क्योंकि यह जुगाड़ और वर्तमान में गूगल द्वारा बोलकर हिंदी टाइपिंग ऑनलाइन ही संभव है.

3 – स्पष्ट और थोड़े तेज आवाज में बोलने का थोड़ा सा अभ्यास आवश्यक है ताकि आपकी आवाज को मशीन पहचान सके. ध्यान रखें कि सभी आवाज को मशीन पहचान नहीं सकता – ‘मुलायमी’ आवाज को तो यह शायद ही पहचाने, अलबत्ता ‘लालुई’ आवाज को यह जरूर अच्छे से पहचान लेगा clip_image015

क्रोम ब्राउज़र पर हिंदी में बोलकर लिखें

बोलकर हिंदी टाइप करने का एक वेब इंटरफ़ेस भी उपलब्ध है.

इसे आप क्रोम ब्राउज़र से चला कर देख सकते हैं.

लिंक यह है -

http://www.hindidictation.com/Index1.html

यहाँ कुछ बोलकर लिखने की कोशिश की गई तो परिणाम यह रहा -

clip_image016

परिणाम जाहिर है, ठीक ठाक है. अपने आम बोलचाल की अंग्रेज़ी भाषा जैसे कि टाइप, एक्यूरेसी आदि को भी यह ठीक पहचान लेता है, परंतु धन्यवाद को धंयवाद तथा है को हे टाइप करता है.

लगता है कि अब पेन-पेंसिल के दिन खत्म होने ही वाले हैं. जब सारा कुछ बोल-सुनकर और जेस्चर (हाव-भाव से नियंत्रण) कंट्रोल से होने लगेगा तो फिर पेन-पेंसिलों को कौन पूछेगा भला?

अपने स्मार्टफ़ोन में लिखकर टाइप करें –

जी हाँ, आपने सही पढ़ा.

clip_image018

आपका देवनागरी हिंदी में लिखा हस्तलेख अब आपका स्मार्टफ़ोन समझ जाता है और उसे डिजिटली कन्वर्ट कर सकता है जिसका उपयोग आप सोशल मीडिया में सक्रिय बने रहने के लिए कर सकते हैं. यदि आपको कुंजियों को टच कर लिखने में सहज नहीं हैं, और अपने प्रिय पेन-पेंसिल कागज जैसी फ़ीलिंग छोड़ना नहीं चाहते तो कोई सौ रुपल्ली (वैसे आप अपनी उँगली का बढ़िया उपयोग कर सकते हैं) में डिजिटल पेंसिल खरीद लाएँ और गूगल हस्तलेखन इनपुट हिंदी इंस्टाल/सक्षम कर इसके जरिए अपना काम करें. गूगल हस्तलेखन इनपुट जीबोर्ड तथा गूगल इंडिक कीबोर्ड में यह अंतर्निर्मित आता है, अथवा आप गूगल प्ले स्टोर से गूगल हैंडराइटिंग इनपुट नामक ऐप्प इंस्टाल कर सकते हैं.

clip_image019

हस्तलेखन इनपुट चालू करने के लिए, कीबोर्ड सेटिंग से – या तो हिंदी जीबोर्ड चुनें या गूगल इंडिक कीबोर्ड चुनें. अब किसी भी इनपुट विंडो में एकदम दाएं कोने में दिए गए कीबोर्ड आइकन को टैप करें और वहाँ पर ऊपर की पट्टी में “अ” अक्षर के ऊपर टैप करें और सबसे नीचे का, तीसरे नंबर का विकल्प चुनें. आप देखेंगे कि सामान्य कीबोर्ड हट गया है और कीबोर्ड की जगह खाली स्थान आ गया है. वहाँ पर आप जिस तरह कागज-पेंसिल पर लिखते हैं, वैसे ही अपनी उंगली से या डिजिटल पेंसिल से हिंदी में लिख सकते हैं. एक बार में केवल एक शब्द लिख सकते हैं, परंतु जल्द ही महारत हासिल हो सकती है और आपको एक-एक अक्षर को टाइप करने से मुक्ति मिल सकती है. सामान्य टाइपिंग में वापस जाने के लिए “अ” अक्षर के बाजू में abc को टैप करें. याद रखें, हस्तलेखन इनपुट पहले से चुनी गई भाषा पर काम करता है – यदि आपने हिंदी चुना है तो हिंदी लिखेगा, अंग्रेज़ी चुना है तो अंग्रेज़ी लिखेगा.

आपके विंडोज पीसी के लिए हिंदी टाइपिंग का सबसे बढ़िया औजार –

डेस्कटॉप और लैपटॉप कंप्यूटरों पर हिंदी में काम करने के लिए अब तो तमाम तरह के जुगाड़ हैं, परंतु जनता बहुधा ट्रांसलिट्रेशन का ही उपयोग करती है. फिर भी, यदि आपको अपनी उत्पादकता बढ़ानी है, सक्रियता और शुद्धता बनाए रखनी है, टाइपिंग में गुम हो जाने (राम का रामा टाइप हो जाने या न होने) के फ्रस्ट्रेशन से बचे रहना चाहते हैं तो इनस्क्रिप्ट कुंजीपट अपनाएँ. यह सभी आधुनिक पीसी, विंडोज, मैक, लिनक्स आदि में डिफ़ॉल्ट रूप में मौजूद होता है, बस इनेबल करना होता है और आमतौर पर हर एप्लिकेशन, हर प्रोग्राम में चलता है. इसे सीखना बेहद आसान है. यह हिंदी वर्णमाला के अनुक्रम के आधार पर बना है और टचटाइपिंग – यानी बिनदेखे शीघ्रता से टाइप करने के लिए डिजाइन किया गया है. इसके कई टाइपिंग ट्यूटर भी हैं जिन्हें डाउनलोड कर आप आसानी से इसे सीख सकते हैं. जब यूनिकोड नहीं था, इनस्क्रिप्ट कुंजीपट नहीं था, तो हिंदी इंटरनेट व हिंदी कंप्यूटिंग के शुरुआती दिनों में मैंने शुषा, रेमिंगटन, कृतिदेव, चाणक्य, रोमन, ट्रांसलिट्रेशन, फ़ोनेटिक आदि न जाने कितने कुंजी पट उपयोग किए और फेंक दिए. सभी में समस्याएँ होती थीं. जब से मैंने इनस्क्रिप्ट अपनाया, मेरी हिंदी टाइपिंग का लाइफ़ हो गया झिंगालाला. इस आलेख को भी मैंने इनस्क्रिप्ट से टाइप किया है, और कुंजीपट को बगैर देखे – 40 शब्द प्रतिमिनट की रफ़्तार से भी अधिक. मैं अपनी देवनागरी हिंदी टाइपिंग में पास तो हो गया ना?

clip_image020

(डेस्कटॉप पर हस्तलेखन (डिजिटल पेन/माउस/टचस्क्रीन से) से हिंदी में टाइप करने की सुविधा – क्रोम एक्सटेंशन – गूगल इनपुट टूल के माध्यम से)

यदि आप डेस्कटॉप / लैपटॉप पर क्रोम ब्राउज़र का प्रयोग करते हैं तो एंड्रायड पर उपलब्ध हिंदी टाइपिंग की कुछ उन्नत सुविधाएँ जैसे कि हस्तलेखन / वाणी से हिंदी टाइपिंग की सुविधा आपको अपने डेस्कटॉप पर हासिल हो सकती हैं. इसके लिए आपको क्रोम में गूगल इनपुट टूल्स नामक एक प्लगइन/एक्सटेंशन इंस्टाल करना होगा. इसके लिए क्रोम वेबस्टोर - https://chrome.google.com/webstore/category/extensions में जाएँ, और google input tools सर्च करें और यह एक्सटेंशन इंस्टाल करें.

और, क्या यह भी बताना समीचीन नहीं होगा कि अब इन तमाम प्लेटफ़ॉर्म के प्रमुख प्रोग्रामों – एमएस वर्ड, नोटपैड++, क्रोम-ओपेरा ब्राउज़र, गूगल डॉक्स, जीमेल, थंडरबर्ड ईमेल क्लाएंट आदि-आदि में हिंदी वर्तनी जांच की अंतर्निर्मित सुविधा भी हासिल है, जिसके जरिए आप अपनी हिंदी में अच्छी खासी शुद्धता भी ला सकते हैं?

हिंदी कंप्यूटिंग संबंधी और भी तमाम किस्म की तकनीकी व काम की जानकारियाँ व समस्याओं के हल आप मेरी निम्न साइट में जाकर सर्च कर प्राप्त कर सकते हैं -

http://raviratlami.blogspot.com/

----.

2 टिप्पणियाँ./ अपनी प्रतिक्रिया लिखें:

  1. एप्पल मैक पर हिंदी इंटरफेस
    https://twitter.com/anurag_bhatia/status/914609515890225153

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन विश्व डाक दिवस और ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

    उत्तर देंहटाएं

आपकी अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद.
कृपया ध्यान दें - स्पैम (वायरस, ट्रोजन व रद्दी साइटों इत्यादि की कड़ियों युक्त)टिप्पणियों की समस्या के कारण टिप्पणियों का मॉडरेशन लागू है. अतः आपकी टिप्पणियों को यहां पर प्रकट होने में कुछ समय लग सकता है.

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---