रविवार, 29 मई 2016

आपने अपने कंप्यूटर को मानवाधिकार दिया है कि नहीं?

आपके कंप्यूटर को भी अब चाहिए उसका अपना मानवाधिकार।

गुरुवार, 26 मई 2016

शनिवार, 21 मई 2016

हर खलनायक के दिल में एक नर्म कोना होता है

या फिर, साला ये धंधा बिल्कुल ही बकवास था, धेला भर का फायदा नहीं था!

पुर्तगाल जिंदाबाद!

पर, पुर्तगाल आखिर है ही कितना बड़ा। फिर भी,।

ये हैं सबसे सरल, कभी न भूलने वाले पासवर्ड

सोशल साइट लिंक्डइन के उपयोगकर्ताओं के पासवर्ड लीक हो गए. एक साइट पर शीर्ष पासवर्ड उपयोग के आंकड़े दिए गए हैं. ये हैं सबसे सरल, कभी न भूलने...

रविवार, 15 मई 2016

क्रोमकास्ट ऑडियो को विंडोज़ से कैसे चलाएँ?

एंड्रायड से क्रोमकास्ट धुंआधार चलता है, कोई समस्या नहीं. परंतु मामला विंडोज़ पर अटक जाता है. खासकर विंडोज डेस्कटॉप कंप्यूटर पर. यहाँ क्रोम ब...

शनिवार, 14 मई 2016

फ़ेसबुक में कैसे खोजें

फ़ेसबुक दैत्याकार है, और यह कुछ कुछ ब्लैक होल की तरह है. आज जो दिख रहा है, कल गायब और ऐसा कि नजर ही न आए. साथ ही, इसका इंटरफ़ेस और शैली इस ...

रविवार, 8 मई 2016

अब, अपने फेसबुक स्टेटस की खुश्बू जानें

और इसे कितने लाईक मिलेंगे यह जानें

सोशल मीडिया में देवनागरी में धड़ल्ले से कैसे लिखें?

सोशल मीडिया के निर्विवाद बादशाह - फ़ेसबुक ने हाल ही में बड़े गर्व से घोषणा की कि अब आप फ़ेसबुक में आसानी से हिंदी – माने देवनागरी में लिख सक...

गुरुवार, 5 मई 2016

चिट्टिया, टेस्टी कलाईयां वे...

नेल पॉलिश लगा के, और भी नमकीन हो गई हो हो हो...

ये ल्यौ! इधर की गंगा तो उल्टी बह रही है!

वैसे, सच कहूँ तो एंड्रॉयड और लिनक्स में मैंने भी कभी एंटी वायरस अब तक उपयोग नहीं किया है।

मंगलवार, 3 मई 2016

क्या आप लोकप्रिय हैं?

वो भी अपनी असल जिंदगी में? तो फिर, फेसबुक से जरा दूरी बना के ही रखना!

सोमवार, 2 मई 2016

जाने क्यों मन मेरा अब मंदिर में रमने लगा है

तो ये बात है पुत्तर, मंदिर में फ्री वाई-फाई मिलने लगा है!

लाल नीले पीले हरे काले तरबूज़

जीएम की जय हो! ये पीला तरबूज़ पहली बार देखा। कस्टमाइजेशन का विकल्प मिले तो चटख बैंगनी रंग का तरबूज़ खाना चाहूँगा, अब स्वाद भले ही उन्नीसा ...

रविवार, 1 मई 2016

बढ़ावा & क्लीनर क्या है?

कोई बताएगा जरा? मामला अनुवाद में खो जाने (लास्ट इन ट्रांसलेशन) का लगता है। वैसे ये स्क्रीनशॉट विज्ञापन के रूप में जबरिया दिखने में आ रहा ह...

जाने क्यों रो पड़ा

हंसते बोलते जाने क्यों रो पड़ा चोट खाई नहीं फिर भी रो पड़ा लोग सब अपनों को ही देखते हैं वो तो दूसरों के हाल पर रो पड़ा ऐसी कौन-सी चूक...

हमें भी चाहिए एक अदद नेतारबॉक्स!

लीजिए सुनिए! वैज्ञानिकों ने एक ऐसा कैटरबॉक्स बना लिया है जिसे बिल्लियों के गले में टांगने के बाद उसके मुँह से निकली हुई मियाँऊँ को मनुष्य (क...

----

----

नया! छींटे और बौछारें का आनंद अपने स्मार्टफ़ोन पर बेहतर तरीके से लें. गूगल प्ले स्टोर से छींटे और बौछारें एंड्रायड ऐप्प image इंस्टाल करें. ---